हम तो बिछडे थे तुमको अपना अहसास दिलाने के लिए,
मगर तुमने तो मेरे बिना जीना ही सिख लिया।

एम्बुलेंस सा हो गया है ये जिस्म,
सारा दिन घायल दिल को लिये फिरता है।

काग़ज़ पे तो अदालत चलती है..
हमने तो तेरी आँखो के फैसले मंजूर किये।

तुमसे ऐसा भी क्या रिश्ता हे?
दर्द कोई भी हो.. याद तेरी ही आती हे।

फ़िक्र तो तेरी आज भी है..
बस .. जिक्र का हक नही रहा।

जिन्हें बचपन में उनकी मम्मी घसीटते हुए…..स्कूल छोड़ के आती थी…..वो लड़के भी आजकल व्हाट्सऐप पर “Status” डाल रहे है……”I miss my School Dayzzz…”😂😂😂😁😀😆😉😃😄

Page 1 of 10112345...102030...Last »